#GlobalHungerIndexReport

लोगो को पेट के लिए क्या –क्या करते देखा ,मैंने भूख को भी भूख से  मरते देखा . पेट की भूख के लिए आज किसी को ज़िन्दगी से लड़ते देखा ,कुछ इस कदर मैंने ज़िन्दगी को पल –पल मरते देखा आज का मुद्दा काफी संवेदनशील है किसी को भी हिला कर रख देना वाला है दरसल ग्लोबल हंगर इंडेक्स ने 107 देशो की रैंकिंग जारी की जिसमे भारत का स्थान 94 वें नंबर पर है जिसने पाकिस्तान और बांग्लादेश छोटे देश  हमसे आगे है .

दुनियाभर में भूख और कुपोषण की स्थिति पर नज़र रखने वाली वेबसाइट ग्लोबल हंगर इंडेक्स ने शुक्रवार को एक रिपोर्ट जरी की जो शनिवार को सामने आई इस रिपोर्ट के अनुसार  107 देशो के ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत इस साल 94 वें नंबर के साथ सीरियस कटेगरी में रहा है यानि की भारत की स्थिति काफी नाजुक है .21 वि शताब्दी में भी हिंदुस्तान में 14 प्रतिशत लोगो को पूरा पोषण नही मिल प् रहा है  लोग भूख और कुपोषण की वजह से मर रहे है और इससे  भारत की स्थिति लगातार बिगडती जा रही है .

एक्कासपर्ट्स कहना है कुपोषण से निपटने में ढीले रवैये और बड़े राज्यों की ख़राब परफॉरमेंस जैसी वजहों से भारत की रैंकिंग निचे गिरी है .

लेकिन मुद्दा ये है की जहाँ एक ओर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जनता  से भारत को विश्व गुरु और आत्मनिर्भर बनाने का बार –बार वादा करते है ,क्या ऐसी परिस्थियाँ बनी रहते हुए भारत को विश्यगुरु बनाया जा सकता है ऐसे में लगातार सरकार का दावा है की वह 80 करोड़ लोगो में फ्री में राशन दिया है .सरकार कुछ और बोल रही है और विश्व भर में भूख और कुपोषण पर नजर रखने वाली संस्था की रिपोर्ट कुछ और बयां कर रही है ऐसे में ये सब बाते हमारी और आपकी समझ से परे है   .

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में बांग्लादेश ,पाकिस्तान और म्यामार भी सीरियस केटेगरी में रखे गए है लेकिन तीनो की रैंक भारत से ऊपर है बांग्लादेश 75 वें  ,म्यामार 78 वें और पाकिस्तान 88 वें नंबर पर है .नेपाल 73 वीं रैंक के साथ मोडरेट हंगर केटेगरी में है इसी केटेगरी में शामिल श्रीलंका का 64 वां स्थान है

अभिषेक पाण्डेय

Related posts

Leave a Comment