कोरोना काल में बिना किसी सूचना लोकवाणी केंद्र बंद किये गए

कोरोना काल में बिना किसी सूचना लोकवाणी केंद्र बंद किये गए जिससे लोकवाणी केंद्र संचालक बेरोजगार हो गए नरेंद्र मोदी का आत्मनिर्भर भारत का यह हाल है कि लोगों से रोजगार छीने जा रहे हैं, लोकवाणी बंद होने से लोकवाणी संचालकों के साथ साथ उन केंद्रों पर काम करने वाले कंप्यूटर आपरेटर व सहायक कर्मियों भी बेरोजगार हो गए हैं, कोरोना लॉकडाउन जैसे भीषण समय में उनके सामने रोजी-रोटी का खतरा मंडरा रहा है जिसके विरोध में बेरोजगार हुए लोकवाणी केंद्र संचालक कल दिनांक 27.07.2020 को सुबह 10:30 बजे डीएम कार्यालय में भीख मांग अपना विरोध प्रदर्शन करेंगे. सभी बेरोजगार केंद्र संचालक एक 1 मीटर की दूरी पर बैठकर वहां आने वाले प्रत्येक व्यक्ति से भीख मांग अपनी आजीविका के अवसर ढूंढेगे।

Related posts

Leave a Comment