मारा गया शातिर अपराधी विकास दुबे। विकास दुबे

विकास दुबे को उज्जैन से कानपुर एसटीएफ के साथ लाया जा रहा था।भौती के पास उसकी गाड़ी पलट गई। सूत्रों के अनुसार विकास दुबे सिपाही की पिस्तौल लेकर भागने की कोशिश की, जिसके चलते एसटीएफ ने उस पर गोली चलाई, जिसमें विकास दुबे का एनकाउंटर कर दिया गया। मुठभेड़ में एसटीएफ के 2 जवान भी जख्मी हो गए। आठ पुलिसकर्मियों की शहादत का बदला ले लिया यूपी पुलिस ने। भौती के पास सुबह 6:30 पर एनकाउंटर किया गया विकास दुबे का। विकास दुबे को एसटीएफ ऑफिस लेकर जा रहे थे पूछताछ के लिए, क्योंकि कई राज खुलने थे। अब यह राज उसी के साथ दफन हो गए कि, विकास दुबे गैंगस्टर विकास दुबे कैसे बना। बताया जा रहा है दो से तीन गोलियां लगी थी विकास दुबे को। अस्पताल लेकर जा रहे थे, तभी रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। इस प्रकार यूपी के गैंगस्टर का अंत हो गया।

संवाददाता- आरती सिंह भारत न्यूज़।

Related posts

Leave a Comment